छात्रों को कीचड़ में से होकर जाना पड़ रहा है स्कूल

तहसील मुख्यालय को जोड़ने वाली सीगोन, मकतन खेड़ी बेलाई मार्ग पूर्ण रूप से उखड़ गया है। इस रोड पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए…

Bhaskar News Network| Last Modified – Jul 01, 2018, 04:35 AM IST

छात्रों को कीचड़ में से होकर जाना पड़ रहा है स्कूल
तहसील मुख्यालय को जोड़ने वाली सीगोन, मकतन खेड़ी बेलाई मार्ग पूर्ण रूप से उखड़ गया है। इस रोड पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं। यहां से निकलने में लोगों को परेशानी हो रही है। इस मार्ग के उखड़ने के कारण गांव के बच्चे बारिश के दौरान स्कूल भी नहीं जा पाते हैं। इससे बच्चों को पढ़ाई प्रभावित होती है वहीं मरीजों को भी चारपाई पर लेटाकर अस्पताल ले जाने पड़ता है।

मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत इस सड़क का निर्माण कार्य 2014-15 में शुरू हुआ था। इस काम को ठेकेदार ने अर्थवर्क करने के बाद छोड़ दिया। ठेकेदार ने अर्थवर्क के दौरान खेतों की मिट्टी डाल दी। इससे बारिश के दौरान सड़क पर कीचड़ हो जाता है। इस सड़क पर लोगों को पैदल निकलने में भी परेशानी होती है। पैदल निकलते समय कई बार पैर फिसलने से लोग गिरकर घायल हो जाते हैं। पहली बारिश में ही पूरी सड़क पर कीचड़ हो गया। गांव के कई बच्चे मिडिल स्कूल नहीं होने के कारण पिपरई और सीगोन पढ़ने जाते हैं। बारिश में रास्ता बंद होने से स्कूल नहीं पहुंच पाएंगे। इससे उनकी बारिश के दौरान पढ़ाई प्रभावित होगी।

निर्माण में नहीं दिखी गुणवत्ता

जिस समय सड़क का निर्माण हुआ था तब अधिकारियों ने इसकी गुणवत्ता पर ध्यान नहीं दिया। ठेकेदार ने मिट्टी डालकर सड़क का निर्माण कर दिया। इससे पहली बारिश में ही सड़क में दलदल हो जाती है। जब अधिक बारिश हो जाती है तो इस सड़क से दोपहिया और चार पहिया वाहन नहीं निकल पाते हैं। इससे मकतनखेड़ी और बेलई गांव के लोगों का संपर्क टूट जाएगा। ऐसी स्थिति में यदि गांव में कोई व्यक्ति बीमार हो जाता है तो उसे चारपाई पर लेटाकर पिपरई अस्पताल लाना पड़ता है। ग्रामीणों ने प्रशासन से बारिश के पहले सड़क पर मुरम डलवाने की मांग की है इससे बारिश के मौसम में आवागमन प्रभावित न हो और गांव के बच्चों रोजाना पढ़ने के लिए स्कूल जा सकें।

इस तरह के मार्ग से स्कूल पढ़ने जा रहे बच्चे।


Reference: https://www.bhaskar.com/mp/bhopal/news/latest-piprai-news-043504-2090741.html

Image Courtesy: Same as above

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *