बिना देखे ही एल-1 से एल-2 में भेज रहे सीएम हेल्पलाइन की शिकायत, अब इन पर भी होगी कार्रवाई

टीएल बैठक- कलेक्टर ने पूछा कितने अधिकारियों पर की कार्रवाई, अगली बैठक में विभाग प्रमुखों पर ठोका जाएगा जुर्माना

सागर. बार-बार ताकीद करने और निर्देश देने के बावजूद सीएम हेल्पलाइन योजना में हीलाहवाली बरती जा रही है। यहां तक की शिकायत को बिना देखे ही एल-१ से एल-२ अधिकारी के पास भेजा जा रहा है।
यह खुलासा सोमवार को टीएल की बैठक में हुआ। इस पर कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने पूछा कि बिना अटैंड किए शिकायत एल-1 से एल-2 पर भेजने वालों पर अधिकारियों ने कितने प्रकरणों में जुर्माना लगाया है। उन्होंने कहा कि अगली बैठक में उन विभाग प्रमुखों पर जुर्माना लगाया जाएगा, जिन्होंने इस ओर ध्यान नहीं दिया। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि विभागों में लंबित 300 दिन से अधिक शिकायतों का निराकरण शीघ्र कराया जाए।
कलेक्टर ने परख वीडियो कॉन्फ्रेंस के एजेंडा के बिन्दुओं पर समीक्षा की। साथ ही प्याज एवं लहसुन भावांतर भुगतान योजना में प्रोत्साहन राशि वितरण की तैयारियों का जायजा लिया।
इसके अतिरिक्त भावांतर भुगतान के तहत गेहूं के शेष भुगतान के बिल शीघ्र तैयार करने, चना, मसूर एवं सरसों के उपार्जन में प्रोत्साहन राशि की गणना कर डिमांड बनाकर तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि 4 अगस्त को आयोजित होने वाले जिला स्तरीय स्वरोजगार सम्मेलन में सांकेतिक रूप से जन-प्रतिनिधियों द्वारा हितग्राहियों को ऋण वितरण किया जाएगा। बैठक में बताया गया कि समाधान योजना के तहत मनरेगा में किए गए कार्य के भुगतान न किए जाने संबंधी 70 शिकायतें लंबित हैं।

सर्विस प्लस पोर्टल की दी जानकारी
बैठक के दौरान एनआइसी ने जिला प्रमुखों को राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र दिल्ली द्वारा विकसित सर्विस प्लस पोर्टल की जानकारी डीआइओ प्रशांत करोले ने दी। इस पोर्टल के माध्यम से किसी भी शासकीय विभाग में ऑफलाइन चल रही नागरिक सेवाओं को ऑनलाइन किया जा सकता है, जिससे आवेदक सेवा के लिए पोर्टल के माध्यम से आवेदन कर सकता है। संबंधित विभाग भी ऑनलाइन ही सेवा को स्वीकृत या अस्वीकृत कर सकता है, जिससे आवेदक को घर बैठे ही सेवा का लाभ प्राप्त हो जाएगा। बैठक में निगमायुक्त अनुराग वर्मा, जिला पंचायत सीईओ चन्द्रशेखर शुक्ला, सिटी मजिस्ट्रेट अविनाष रावत एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
40 फीसदी से कम साख जमा अनुपात वाले बैंक की मॉनीटरिंग हो
सागर. जिलास्तरीय समन्वय समिति की बैठक सोमवार को संपन्न हुई। इसमें पिछली बैठक की कार्यवाही की पुष्टि व अनुपालन कार्यवाही पर चर्चा की गई। साथ ही मार्च 2017-2018 की साख जमा अनुपात समीक्षा, किसानों की आय दोगुनी करने, आधार सीडिंग की, अटल पेंशन योजना, आरसेटी एवं एफएलसीसी की समीक्षा हुई। बैठक में बताया गया कि जिन बैंकों का साख जमा अनुपात 40 प्रतिशत से कम है,उनकी मासिक मॉनीटरिंग की जरूरत है। साथ ही महीने के दूसरे सप्ताह के टीएल में बैंकर्स के साथ मीटिंग की जाएगी।
इस दौरान मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, स्वरोजगार योजना एवं आर्थिक कल्याण योजना, मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम एवं ग्राम बरोदिया कलां तहसील मालथौन में बैंक शाखा खोलने के संबंध में मंथन किया गया। इस अवसर पर कलेक्टर आलोक कुमार सिंह, अग्रणी जिला प्रबंधक धनंजय शर्मा, भारतीय रिजर्व बैंक के प्रतिनिधि पालीवाल एवं अन्य बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।


Reference: https://www.patrika.com/sagar-news/complaint-of-cm-helpline-sending-l-1-to-l-2-2978586/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *