न मुआवजा मिला, न प्लॉट, सरकार ने छीन लिया घर-मकान

Jul, 25 2017 09:46:00 PM (IST) Dhar

पुनर्वास की विसंगतियों में उलझी 24 परिवारों जीवनधारा, मुंह पर काली पट्टी बांध किया प्रदर्शन, एनवीडीए के अधिकारियों की कारस्तानी से नहीं मिला मुआवजा

कुक्षी.सरदार सरोवर परियोजना के डूब प्रभावित परिवारों के पुनर्वास में हो रही विसंगतियों के चर्चे होना आम बात है। ताजा मामला नर्मदा घाटी विकास विभाग के अधिकारियों का है। डूब क्षेत्र के ग्राम बोधवाड़ा के 24 परिवारों की दास्तां यह है कि पुनर्वास में नजरअंदाज में उलझे हुए है।
जीआरए आदेशों की अवहेलना एनवीडीए द्वारा कर उन्हें अधर की जिंदगी जीने पर मजबूर कर दिया है। मंगलवार तक इन परिवारों को न तो मुआवजा मिला और न ही बसाहट में प्लॉट…। इन्हें घर से निकलने का आदेश तो दे दिया पर ये जाएं तो कहां…। ऐसी स्थिति में बोधवाडा के 24 परिवारों ने कुक्षी में मुंह पर काली पट्टी बांधकर मौन जुलूस निकाला। जुलूस नगर के प्रमुख मार्गों से निकल कर विजय स्तंभ चौराहा पहुंचा। पीडि़त परिवारों का नेतृत्व कर रहे बोधवाडा निवासी राधेश्याम उजले ने बताया कि ग्राम बोधवाड़ा के 24 परिवारों को आधिकारियों की विसंगति के कारण हमारे घरों का न तो मुआवजा दिया गया, न ही हमें पुनर्वास स्थल पर प्लॉट आवंटित किए गए। ऐसी दशा में हम सभी का भविष्य अंधकारमय है । माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों के अनुसार बसाहट क्षेत्र में बसाने में भूअर्जन विभाग द्वारा अभी तक जमीनों का आवंटन नहीं किया गया और 31 जुलाई तक डूब प्रभावित क्षेत्र खाली करने के आदेश देकर उन से जबरन गांव खाली करवाया जा रहा है। इसकी शिकायत निवारण प्राधिकरण सरदार सरोवर परियोजना को भी की गई है।आंदोलनकारियों ने शीघ्र समस्या का समाधान नहीं किए जाने पर उग्र आंदोलन तथा आमरण अनशन की चेतावनी दी है। प्रदर्शन में बोधवाड़ा के संतोश मेंढे, गोविंद बलराम, सीताराम, श्यामाबाई, प्रेमबाई, बुदि बाई, लीलाबाई सहित प्रभावित परिवार के सदस्य शामिल थे।


Reference:  https://www.patrika.com/dhar-news/no-compensation-no-plot-government-snatched-house-house-1631555/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *