शहरी मजदूर क्यों नहीं दिखा रहे असंगठित मजदूर योजना केे लिए पंजीयन में रुचि

raghavendra chaturvedi | Publish: Jul, 12 2018 12:18:53 PM (IST) Katni, Madhya Pradesh, India

अफसर भी परेशान, जानिये पंजीयन संख्या बढ़ाने के लिए क्या कर रहे हैं प्रयास

कटनी. असंगठित मजदूरों के लिए राज्य सरकार दो सौ रुपये मासिक बिजली बिल पर बिजली से लेकर प्रसूति सहायता, अंत्येष्टि सहायता और बच्चों की शिक्षा का खर्च उठाने सहित अन्य लाभ दे रही है। जानकर ताज्जुब होगा कि इसके बाद भी जिले में शहरी क्षेत्र में मजदूर सरकार की इस योजना का लाभ लेने आगे नहीं आ रहे हैं। जिले के नगरीय निकायों में असंगठित मजदूरों का पंजीयन 15 प्रतिशत से भी कम है। यही बात स्थानीय अफसरों के लिए चिंता का कारण बन गया है। राज्य सरकार की अति महत्वपूर्ण इस योजना में शहरी मजदूरों का कम पंजीयन होना तो कई कर्मचारियों के लिए गले की फांस बनता जा रहा है। बड़े अधिकारियों ने साफ कह दिया है कि पंजीयन कम हुआ तो कार्रवाई होगी।

इधर जमीनी स्तर पर काम करने वाले कर्मचारी अब शहरी क्षेत्र में पंजीयन बढ़ाने के लिए योजना के लाभ गिना रहे हैं। स्वयं मजदूरों से संपर्क कर उन्हे पंजीयन की सलाह दे रहे हैं। नगर निगम कटनी सहित नगर परिषद कैमोर, बरही व विजयराघवगढ़ में मजदूरों का पंजीयन क्रमश: 12.05, 16.45, 15.23 व 14.23 है। दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्र में मजदूर वर्ग इस योजना का लाभ लेने में आगे हैं। सभी जनपद क्षेत्र में पंजीयन 20 प्रतिशत से अधिक है।

असंगठित क्षेत्र में मजदूरों के पंजीयन के मामले में जिले के ग्रामीण क्षेत्र में मजदूर आगे आ रहे हैं। जनपद कटनी में 28.95, बड़वारा में 39.80, बहोरीबंद में 17.10, ढीमरखेड़ा में 23.16, रीठी में 33.14 व जनपद विजयराघवगढ़ में 23.93 प्रतिशत मजदूरों का पंजीयन के बाद सत्यापन हुआ है।

पूरे मामले को लेकर कलेक्टर केवीएस चौधरी का कहना है कि जिले के नगरीय निकाय क्षेत्र में असंगठित मजदूरों का 15 प्रतिशत से कम पंजीयन हुआ है। यहां कर्मचारियों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा जा रहा है। प्रयास कर रहे हैं कि योजना का लाभ जरुरतमंदों को जरुर मिले।

पंजीयन को लेकर यह है स्थिति

– 10.29 प्रतिशत है कटनी नगर निगम में सत्यापन की स्थिति कुल आबादी 2 लाख 21 हजार 838 में 22 हजार 834 का ही सत्यापन।
– 12.82 प्रतिशत नगर परिषद विजयराघवगढ़ में असंगठित मजदूरों का हुआ है सत्यापन। यहां 8371 में 1073 ने ही सत्यापन।
– 14.45 प्रतिशत नगर परिषद कैमोर में सत्यापन। 19 हजार 343 में 2 हजार 796 का ही सत्यापन।
– 14.46 प्रतिशत नगर परिषद बरही में सत्यापन। 13 हजार 946 आबादी में 2 हजार 16 मजदूरों का ही सत्यापन।
– 3 लाख 9 हजार 762 मजदूरों का असंगठित क्षेत्र में पंजीयन के बाद हुआ है सत्यापन।


Reference: https://www.patrika.com/katni-news/interest-in-registration-of-unorganized-labor-scheme-why-not-1-3089270/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *