लाडली लक्ष्मी के नाम पर भांजियों से धोखा कर रहे CM ‘मामा’, PM से मदद की गुहार

Published 05-Jul-2018 17:14 IST

दरअसल, सूचना के अधिकार आंदोलन के संयोजक अजय दुबे ने इस योजना को धोखा बताते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को चिट्ठी लिखी है और कहा कि सीएम को 3 बार सत्ता में लाने वाली लाडली लक्ष्मी फ्लैगशिप योजना पूरी तरह ध्वस्त हो गयी है क्योंकि इस योजना के 27 लाख प्रमाण पत्रों में QR कोड काम करना बंद कर चुका है।

प्रदेश की 27 लाख लाडलियों की राशि का पता नहीं है क्योंकि वित्त विभाग के आदेश के बावजूद हर लाडली का पृथक खाता सरकार के महिला बाल विकास विभाग ने नहीं बनाया है। लिहाजा लाडली लक्ष्मी निधि की राशि लगभग 7000 करोड़ के ब्याज की गणना, NSG से समायोजन और हर स्तर पर शिक्षा हेतु छात्रवृत्ति देने की कोई सुचारू व्यवस्था भी नहीं है।

 

भांजियों को शिक्षा हेतु छात्रवृत्ति देने की कोई सुचारू व्यवस्था नहीं है। महिला एवं बाल विकास विभाग के पास MAPIT का सहयोग है, किंतु दुर्भाग्य से डिजिटल रिकॉर्ड संधारण जैसे बालिका का फोटोग्राफ, जन्म प्रमाण पत्र और अन्य दस्तावेज हेतु कोई व्यवस्था नहीं है। लाडली लक्ष्मी कानून बना दिया गया, लेकिन इसके विश्वसनीय संचालन की प्रणाली को भ्रस्ट IT विशेषज्ञ टीम और नौकरशाही ने साजिश के तहत चौपट कर दिया।

यह एक तरह से सरकारी खजानों को चपत लगाने की कोशिश है। उन्होंने बताया कि इस योजना को प्रसिद्ध और लोकप्रिय वेबसाइट www.ladlilaxmi.com का डोमेन अब बिक्री हेतु उपलब्ध है क्योंकि इसे www.ladlilaxmi.mp.gov.in पर शिफ्ट कर दिया गया। जिसके चलते अजय दुबे ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग की है।


Reference: http://hindi.eenaduindia.com/States/Central/MadhyaPradesh/BhopalCity/2018/07/05171521/RTI-activist-Wrote-letter-to-PM-for-Ladli-Laxmi-Yojana.vpf

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *