मुख्यमंत्री कन्यादान योजना को लोगों ने बनाया व्यवसाय, जनसुनवाई में दर्ज कराई शिकायत

 
भोपाल। मध्यप्रदेश में “मुख्यमंत्री कन्या दान” योजना के नाम पर गरीब परिवारों से शादी के रजिस्ट्रेशन के नाम पर 1100-1100 रुपये वसूलने का मामला सामने आया है। संयुक्त संघर्ष मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष शमशुल हसन ने कलेक्ट्रट कार्यालय में आयोजित कलेक्टर जनसुनवाई में पहुंचकर पूरे मामले की शिकायत कलेक्टर सुदाम खाडे से की है।

हसन का आरोप है कि त्रिदेवी मॉ वेष्णों जनकल्याण दरबार समिति के अध्यक्ष विनोद पलया द्वारा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के अंतर्गत विवाह सम्मेलन आयोजित कर शादी करने वाले वर-वधु के प्रत्येक परिवार से ग्यारह सौ- ग्यारह सौ रुपये रजिस्ट्रेशन के नाम पर वसूले जाते है। जबकि मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत शादी करने वाले वर वधु को शादियों का खर्च संबंधित विभाग द्वारा वहन किया जाता है और वर वधु से कोई पैसा नही लिया जाता है।

हसन का आरोप है कि पलया द्वारा कन्यादान योजना के नाम पर लाखों रुपये अर्जित कर लिए है। उन्होने आरोप लगाते हुए आगे बताया कि पिछले 10 सालों से प्रशासन की नाक के नीचे इस घोटाले को अंजाम दिया जा रहा है लेकिन जिम्मेदार अधिकारी इस मामले पर कोई कार्यवाह नही कर रहे है। जिससे मुख्यमंत्री जी की महात्वकांक्षी योजना बदनाम हो रही है। संयुक्त संघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष शमशुल हसन ने घोटाले से संबंधित आडियों रिकार्डिंग भी शिकायत के साथ सौंपी है। हसन ने पूरे मामले की अतिशीघ्र उच्च स्तरीय जांच कर मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के नाम पर वसूली करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग की है।

हसन ने कलेक्टर महोदय से मुख्यमंत्री की महात्वकांक्षी योजना से रुपयों की उगाही में शामिल कर्मचारियों और अधिकारियों की भूमिका की अविलंब जांच कर सख्त कार्यवाही की भी मांग की है। हसन की शिकायत पर कलेक्टर ने मोर्चे को शीघ्र जांच कर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है। शिकायत के दौरान प्रदेशाध्यक्ष शमशुल हसन, दीपक वर्मा, नितिन जैन, जिलाध्यक्ष जाहिद अली सहित बडी संख्या में मोर्चा के पदाधिकारी मौजूद थे।


Reference: https://glibs.in/MISC/madhya+pradesh-news-Chief-Minister-Kanyadan-Yojana-created-peoples-business-bhopal-news-36134.html

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *