मुख्यमंत्री कन्यादान योजना : पहले मां ने बच्चे को पिलाया दूध, फिर पति संग लिए फेरे

Bhaskar News Network | Last Modified – Mar 30, 2018, 02:35 AM IST

कुक्षी/धार | गुरुवार को यहां कुक्षी में हुए मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के सामूहिक विवाह समारोह में संख्या बढ़ाने के लिए शादीशुदा-बच्चे वालों को गृहस्थी के सामान का लालच देकर दोबारा फेरे करवा दिए गए। इसका प्रमाण है मनावर तहसील के उमरबन विकासखंड के गांव पाडला का यह जोड़ा। वधू का नाम है रेशम, जिसने मंडप में बैठने से पहले अपने डेढ़ साल के बेटे आयुष को दूध पिलाया। उसके बाद अपने पति पिंटू के साथ फेरे लिए। इस दौरान रिश्तेदार भी साथ थे।

सचिव ने बताया तो कुक्षी जाकर कराया पंजीयन

पति पिंटू ने बताया हम भाग कर गए थे। हमारे दो बच्चे हैं। शादी नहीं की थी, इसलिए सरकारी शादी में आ गए। सचिव ने बताया तो कुक्षी जाकर पंजीयन कराया।

नकद राशि नहीं देंगे, गृहस्थी का सामान वापस लेंगे : जिपं सीईओ

जिला पंचायत सीईओ रवींद्र चौधरी का कहना है विवाह पंजीयन ऑनलाइन होता है, जिसका सत्यापन ग्राम पंचायत सचिव करते हैं। कुछ जोड़े संदेहास्पद होने पर हमने बाहर किए थे। यदि और भी कोई ऐसे रहे हैं, उन्हें नकद राशि खातों में देना शेष है, वह जारी नहीं की जाएगी। गृहस्थी के सामान की रिकवरी भी करवाएंगे।

पति बोला-भाग के गए थे, शादी नहीं की थी, यहां कर ली

समारोह के प्रांगण में रेशमबाई बेटे आयुष को दूध पिलाते हुए।

मंडप में हवनकुंड के सामने बैठे रेशमबाई और पिंटू।


Reference: https://www.bhaskar.com/mp/dhar/news/MP-OTH-MAT-latest-dhar-news-023504-1364523-NOR.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *