गरीबों की रसोई पर ताला, आटा, दाल-चावल खत्म

बड़वानी. गरीबों के लिए मुख्यमंत्री की पंडित दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत मिलने वाली भोजन की थाली की रसोई पर 10वें दिन ही ताले मिले। सोमवार को आकस्मिक निरीक्षण पर पहुंचे सांसद को रसोई बंद मिली।  पता चला कि रसोई में राशन ही नहीं है। इसके बाद सांसद सुभाष पटेल ने फोन लगाकर कलेक्टर को शिकायत की। इसके बाद दो अधिकारियों पर कार्रवाई की गई। उल्लेखनीय है कि शुरू होने के बाद से यहां राशन की कमी बनी हुई थी। इसके बाद भी संबंधितों ने इसकी सुध नहीं ली।

14 अप्रैल से प्रदेश के 51 जिलों में पं. दीनदयाल अंत्योदय रसोई योजना आरंभ की गई थी। योजना के तहत जरुरतमंद गरीबों का 5 रुपए में रोटी-सब्जी, दाल-चावल उपलब्ध कराना था। रसोई के संचालन का जिम्मा रेडक्रॉस सोसायटी का था।  सोसायटी को ही यहां राशन, सब्जी, गैस उपलब्ध कराना था।  इन्हीं के माध्यम से  ही यहां कर्मचारियों की नियुक्ति होनी थी।
बड़वानी में योजना तो शुरू हुई, लेकिन आधी अधूरी। यहां पहले दिन से ही अव्यवस्थाओं का बोलबाला  था। तीन दिन पहले यहां सिर्फ रोटी और सब्जी ही दी जा रही थी, इसमें भी रोटी कच्ची थीं। इस खबर को पत्रिका ने प्रमुखता से प्रकाशित भी किया। बावजूद इसके प्रशासन ने यहां व्यवस्थाएं सुधारने की कोशिश नहीं की।

गैस टंकी, तेल मसाला सब खत्म
रसोई संभालने वाले नगर पालिका कर्मचारी को जब यहां बुलवाया गया तो पता चला कि यहां गैस की टंकी, तेल, मसाला, दाल-चावल और सब्जी नहीं होने से रसोई को बंद कर दिया गया है। नपाकर्मी ने बताया कि दो महिलाएं रोटी बनाने के लिए रखी है। अन्य कर्मचारियों की भी आवश्यकता है जो कि पूरी नहीं हो पाई है। ऐसे में रसोई का संचालन बेहद कठिन हो रहा है। जैसे तैसे कर अब तक रसोई का संचालन किया जा रहा था। अब जब कुछ बचा ही नहीं तो रसोई कैसे चालू की जा सकती थी।

मुख्यमंत्री के निर्देश पर किया निरीक्षण
मुख्यमंत्री ने सभी जिलों में मंत्रियों, विधायकों, सांसद और जनप्रतिनिधियों को निर्देशित किया था कि दीनदयाल रसोई की लगातार मॉनिटरिंग की जाए। सोमवार दोपहर 1 बजे सांसद सुभाष पटेल, नपा अध्यक्ष कोकिला पटेल, भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश खंडेलवाल, पूर्व विधायक प्रेमसिंग पटेल सहित कई जनप्रतिनिधि जिला अस्पताल के सामने स्थित रसोई में भोजन करने पहुंचे तो यहां ताला लगा मिला। सांसद ने मौके से ही कलेक्टर को फोन लगाकर स्थिति से अवगत कराया।

डूडा अधिकारी, सीएमओ का प्रभार छीना
जिला मुख्यालय पर दीनदयाल अंत्योदय रसोई केंद्र की जिम्मेदारी डूडा अधिकारी पर थी। सोमवार को निर्धारित समय पर रसोई केंद्र बंद पाए जाने की शिकायत पर कलेक्टर ने जांच के लिए एसडीएम महेश बड़ोले को जांच के लिए भेजा था। एसडीएम ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा बनाया था। इसके बाद कलेक्टर ने डूडा के प्रभारी अधिकारी रियाजुद्दीन कुरैशी तथा नगरपालिका अधिकारी संतराम चौहान का प्रभार छीन लिया है। वहीं दोनों अधिकारियों को शोकॉज नोटिस जारी कर तत्काल जवाब प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है।

साथ ही कलेक्टर ने इन दोनों अधिकारियो पर और कठोर कार्रवाई के लिए शासन को भी प्रस्ताव भेजा है। कलेक्टर ने तात्कालिक रूप से डूडा का प्रभार संयुक्त कलेक्टर एमएल कनेल को तथा सीएमओ बड़वानी का प्रभार तहसीलदार बड़वानी आदर्श शर्मा को सौंपा है।


Reference: https://www.patrika.com/badwani-news/pt-deendayal-antyodaya-kitchen-scheme-closed-in-barwani-1562026/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *